कोरोना से संक्रमित कनिका कपूर के जीवन से जुड़े रोचक तथ्य

1
1149
Interesting facts related to corona infected Kanika Kapoor
Interesting facts related to corona infected Kanika Kapoor

कोरोना(coronavirus)से संक्रमित सिंगर कनिका कपूर (Kanika Kapoor) जब वो लन्दन से लौटी तो उनको आशोलेसन में रहने को बोला था , लेकिन कनिका कपूर (Kanika Kapoor) को इस बात से कोई फरक नही पड़ा और ये बात कनिका कपूर ने अनसुना कर दिया . कोरोना से संक्रमित होने के बावजूद अपने यहाँ एक पार्टी रख ली , जिसमे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को बुलाया .जो हम एक बेवकूफी वाला काम बोल सकते है और इस बेवकूफी वाले फैसले के चलते उन्हें नोटिस भी मिल चूका है और उनके खिलाफ FIR भी दर्ज हो चुकी है . इस मूर्खतापूर्ण कार्य के चलते कनिका की सोशल मीडिया पर भी बहुत आलोचना हो रही है. वहीँ कुछ लोग है जो उनका सोशल मीडिया पर साथ भी दे रहे है .

कनिका कपूर के जीवन से जुड़े कुछ रोचक तथ्य -Interesting facts related to Kanika Kapoor’s life

  • कनिका कपूर (Kanika Kapoor) इंडियन क्लासिकल संगीत में पारंगत है .
  • कनिक अपने गाने बेबी डॉल के माद्यम से बहुत प्रसिद हुई .
  • कनिका का जन्म भारत के लखनऊ में हुआ है . जब वो मात्र 18 साल की थी तब ही वो शादी के बंधन में बंध गयी है.
  • शादी के बाद वो भारत में न रहकर अपने पति राज चंडोक के साथ लन्दन में रहने का फैसला किया और लन्दन चली गयी .
  • आपको शायद नही पता हो , इसलिए बता दे कि कनिका कपूर के 3 बच्चे है और उनका अपने पति से तलाक भी हो चूका है . अपने पति से तलाक होने के बाद वो वापस अपने देश भारत लौट आई .
  • कनिका कपूर (Kanika Kapoor) ने अपने करियर की शुरुआत एक पाकिस्तानी सूफी गीत ‘अलिफ़ अल्लाह ” के रिमिक्स से की जिसेक बोल थे “जुगनी जी”. इनका ये गाना 2012 में आया था . कनिका को पहचान सनी लियॉन की फिल्म रागिनी एमएमएस -2 के सोंग बेबी डॉल से मिली . उनका ये गाना 2014 में आया था . और इस गाने ने खूब वाह वाही लुटी थी .
  • इसके बाद कनिका ने 2 बेक टू बेक गाने और आये जिनके बोल थे 1.” चिट्टियाँ कलाइयाँ , 2. “लवली ” दोनों ही गाने सुपरहिट थे .

भारतीय संगीत से जुड़े रोचक तथ्य

  • वो कहते है किसी का जीवन पूरी तरह खुशियों से भरा हुआ नही होता तो कनिका कैसे इस हकीकत से अनछुही रह सकती थी , उनके जीवन में भी एक ऐसा पड़ाव आया जब वो अपने आप को खत्म करना चाहती है .
  • वो बताती है कि तालक के समय वो बहुत बुरे दौर से गुजर रही थी वो समय आसान नही था , उनके जीवन का सबसे मुश्किल दौर था . पैसे नही थे , वकील की फीस हाई थी , साथ पैसो के अभाव में बच्चों को स्कूल से निकाल दिया था , वजह स्कूल की फीस समय पर न भरना .
  • लेकिन कहते है हम सभी के जीवन में कुछ लोग ऐसे होते है जो सच में हमारी भलाई चाहते है तो जब कनिका एक समय बीमार हुई तो उन्हें लगा अब सब खत्म हो चूका है , लेकिन उनकी माँ भाई और कुछ दोस्तों ने इस कठिन परिस्थिथि में उनका साथ दिया और सब सही हो गया .

ये भी देखें

अजय देवगण ने की अपनी अगली मूवी की अनाउंसमेंट

आलिया भट्ट एक कॉमेडी फिल्म में करेंगी काम

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here