आरोग्य सेतु (Aarogya Setu) ऐप बचाएगी कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क में आने से

भारत भारत सरकार कोरोना से लड़ने के लिए अपनी कमर कस चुकी है। और हर वो प्रयास प्रयोग में ला रही है जिससे कोराना को बढ़ने से रोका जा सके। फिलहाल सरकार कोरोना को बढ़ने से रोकने के लिए सरकार ने सोशल डिस्टेंस मेंटेन करने के लिए कहा है।क्योंकि यह एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में बहुत ही तेजी से फैल रहा है इसलिए सोशल डिस्टेंस मेंटेन करना बहुत जरूरी है।

0
617
कोरोना पॉजिटिव (corona positive)व्यक्ति के संपर्क में आने से बचाएगी आरोग्य सेतु (Aarogya Setu) ऐप
कोरोना पॉजिटिव (corona positive)व्यक्ति के संपर्क में आने से बचाएगी आरोग्य सेतु (Aarogya Setu) ऐप

कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क में आने से बचाएगी आरोग्य सेतु (Aarogya Setu) ऐप

भारत भारत सरकार कोरोना से लड़ने के लिए अपनी कमर कस चुकी है। और हर वो प्रयास प्रयोग में ला रही है जिससे कोराना को बढ़ने से रोका जा सके। फिलहाल सरकार कोरोना को बढ़ने से रोकने के लिए सरकार ने सोशल डिस्टेंस मेंटेन करने के लिए कहा है।क्योंकि यह एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में बहुत ही तेजी से फैल रहा है इसलिए सोशल डिस्टेंस मेंटेन करना बहुत जरूरी है।

कोरोना से लड़ना बहुत मुश्किल हो जाता है क्योंकि कोरोना से पॉजिटिव व्यक्ति मैं कोरोना के लक्षण लिखने में काफी समय लग जाता है ऐसे में वह जिस किसी के भी संपर्क में आता है उसे भी कोरोना से ग्रसित कर देता है जिसका पता उसे बहुत समय बाद चलता है। इस समय पीरियड में वह अन्य लोगों के संपर्क में आता है तो उसे भी कोरो ना हो सकता है, जोकि बहुत घातक है। इसके देरी से आने वाले लक्षण के कारण इसका पता कर पाना बहुत ही मुश्किल हो जाता है। यदि कोरोनावायरस जाति की पहचान ही नहीं हो पाएगी तो उस से दूरी बनाना भी मुश्किल हो जाता है।

इसके लिए सरकार ने एक ऐप जारी की है जिसका नाम है आरोग्य सेतु। यह ऐप कोरोना से पॉजिटिव व्यक्ति को ट्रैक करेगी। तो जान लेते हैं कैसे यह ऐप काम करेगी और कैसे यह पता करेगी कि कौन व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव है और कौन नहीं।

आरोग्य सेतु ऐप फीचर्स (Aarogya Setu App Features)

आरोग्य सेतु (Aarogya Setu) ऐप लोकेशन ट्रैक करती है। इसमें लोकेशन को ट्रैक करने के लिए लोकेशन डेटा ओर ब्लूटूथ का उपयोग किया जाएगा। यह ऐप कोरोना ट्रैकिंग ऐप है जो स्मार्टफोन की लोकेशन और ब्लूटूथ माध्यम से उपयोगकर्ता को बताता है कि वह व्यक्ति किसी कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क में आया था या नहीं। यह ऐप कोरोनावायरस से संक्रमित व्यक्ति के डाटा बेस को चेक करती है आरोग्य सेतु ऐप डिवाइस से यूजर के डाटा को इंक्रिप्टेड फॉर्म में लेता है। जब यह इंक्रिप्शन कोड जान जाता है तू यह यूजर के डाटा को सर्वर को भेजता है। जिसके बाद यूजर को पता चल जाता है कि वह किसी कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए थे या नहीं।

इसके लिए स्मार्टफोन के ब्लूटूथ का उपयोग करता है और के 6 फीट की दूरी पर आते ही उपयोगकर्ता को इसकी जानकारी देता है। साथ ही यह जानकारी देता है यदि आप किसी कोरोनावायरस से संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आते हो तो उसकी जानकारी भी है सरकार को देता है।

फ्लैट फुट की समस्या (Problem) को अनदेखा करना हो सकता है नुकसानदायक

आरोग्य सेतु (Aarogya Setu) ऐप में उपयोगकर्ता की प्राइवेसी का पूरा ध्यान रखा गया है और आपका डाटा किसी थर्ड पार्टी ऐप को शेयर नहीं किया जाता। साथ ही इसमें दिए गए चैट ऑप्शन से आप कोरोना के लक्षणों को भी पहचान सकते हैं।

इस ऐप में हेल्थ मिनिस्ट्री के अपडेट्स आपको मिलते रहते हैं और हर राज्य के कोरोनावायरस के हेल्पलाइन नंबर भी आपको यहां पर मिलते हैं। इस ऐप को आप एप्पल स्टोर और एंड्राइड के प्ले स्टोर से आसानी से इंस्टॉल कर सकते हैं। इस ऐप में लैंग्वेज वरीयता को भी महत्व दिया गया है । ऐप में 11 भाषा आपको मिलती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here